xVasna.com
Desi SEX Kahaniya

बॉस की सेक्सी वाइफ निराली मेडम की चुदाई की

दोस्तों मेरा नाम जय जानी है और मैं गुजरात से हूँ. मेरी उम्र 25 साल है मैं पेशे से एक बिजनेशमेन हूँ. मेरे लंड का साइज़ साड़े 6 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा है. मेरी हाईट 5 फिट 7 इंच और मेरी बॉडी अच्छी है. मैं देखने में भी एकदम हेंडसम सा हूँ. आज की ये कहानी करीब 2 साल पहले की है. जब मैं पढ़ाई ख़त्म कर के एक छोटी सी कम्पनी में जॉब करता था. उम्मीद करता हु की आप लोगो को ये स्टोरी बहुत अच्छी लगेगी.

तब मेरी उम्र 23 साल की थी और मैं मेरी पढ़ाई कुछ महीनो पहले ही खत्म हुई थी. मेरी जॉब इस छोटी इंडस्ट्री में लग गई थी. मेरे बॉस का नाम कमलेश था और उसकी उम्र करीब 48 साल की थी. वो बहुत गुस्से वाले स्वभाव का था उसके सामने बोलने की किसी की भी हिम्मत नहीं होती थी.

करीब 2 महीने हुए थे मुझे वहां जॉब करते हुए. एक दिन मैं दोपहर को 2 बजे अपनी केबिन में बैठा हुआ था. तो मेरा बॉस वहां आया और उसने एक फ़ाइल मुझे दी और बोला ये फ़ाइल में मेरी वाइफ के साइन करवाने है. उसने मुझे कहा तुम जल्दी से घर जाओ और साइन करवा के वापस आ जाओ.. मैं कभी उनके घर पर गया नहीं था तो उसने मुझे एड्रेस दे दिया और मैं बॉस की ही कार लेकर उसके घर के लिए निकल गया. घर जाकर मैंने बेल बजाई और थोड़ी देर खड़ा रहा तो कोई आया नहीं बहार.

फिर जैसे ही मैंने दूसरी बार डोर बेल बजाई तो डोर खुला और जैसे ही मैंने उन्हें देखा तो मैं एक मिनिट तक बस देखता ही रह गया. अंदर से एक खुबसुरत लेडी बहार आई थी जिसकी उम्र करीब 42 साल की थी. पर देखने में वो 30 जितनी ही लग रही थी. उसने एक गाउन पहना हुआ था और उसका फिगर 36 30 36 जितना था. मैंने अपने आप को संभाला और कहा मेम आप के कुछ साइन होते थे इस फ़ाइल में इसलिए सर ने मुझे भेजा है.

तो उसने मुझे अन्दर बुलाया और मेरे लिए ठंडा पानी ले के आई. जैसे ही वो साइन करने के लिए निचे झुकी तो मेरा ध्यान सीधा उनके बूब्स पर ही पडा. और मेरा लंड टाईट होने लगा. मेरी नजर उसके बुब्सपर से हट नहीं पा रही थी ये बात उसने भी नोटिस कर ली.

फिर मैं वहां से चलने लगा तो उसने कहा की फेक्ट्री में क्या काम करते हो आप? तो मैंने उसे बताया की मैं जूनियर इंजीनियर हूँ और अभी एक मशीन सिख रहा हूँ. तो उसने मुझे पूछा की नाम क्या है? तो मैंने अपन नाम बताया और मैंने उनको भी उनका नाम पूछा तो उसने निराली बताया.

फिर मैं अपने बॉस के पास वो फ़ाइल ले के चला गया. और फिर कुछ दिन ऐसे ही निकल गए. और एक वीकेंड ऑफ़ के दिन अननोन नम्बर से कॉल आया तो मैंने उठाया. सामने से आवाज आई की कैसे हो? मैंने कहा ठीक हूँ लेकिन कौन बात कर रहा है? तो उसने बताया की इतनी जल्दी ही मेरे को भूल भी गए? मैंने कहा नै पहले आप की आवाज सुनी नै है इसलिए. फिर उसने बताया की मैं निराली बोल रही हूँ. तो मैंने कहा जो बोलिए मेडम आप ने कैसे मुझे याद किया?

तो उसने कहा अरे मेरा लेपटोप बिगड़ गया है तो मैंने आप के सर को बोला. सर अभी 2 दिन के लिए टूर पर जा रहे थे तो उन्होंने आप का नम्बर दिया और बोला की जय को बोलो वो ठीक करवा देगा. मैंने इसलिए ही आप को कॉल किया. क्या आप अभी घर पर आ सकते हो?

मैंने कहा मैं बस 30 मिनिट्स में आ रहा हूँ. और मैं उनके घर चला गया. मैने देखा की मेम आज कुछ अलग ही मूड में थी. और उसने ब्लेक ट्रांसपेरेंट गाउन पहना हुआ था और उसके अन्दर से उनकी पेंटी और ब्रा दोनों ही साफ़ साफ़ नजर आ रही थी. वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी. मैंने कहा की क्या हुआ है लेपटोप को तू उसने कहा की स्टार्ट ही नहीं हो रहा है.

मैं उसके लेपटोप को चेक करने लगा लेकिन मेरी नजर तो निराली के बड़े बूब्स पर ही थी तो उसने कहा की तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या? मैंने कहा नहीं है कोई भी मेम. तो उसने कहा क्यूँ नहीं है? तो मैंने कहा की अभी तक कोई मिला नहीं है जैसा की मुझे चाहिए. तो उसने कहा की कैसी चाहिए? तो मैंने कहा की आप के ही जैसी कोई हॉट और सेक्सी मिला नहीं. तो उसने कहा क्या मैं सच में हॉट और सेक्सी हूँ?

मैंने कहा हां तो उसने कहा की कभी सेक्सी क्या हैं? मैने कहा नहीं कभी किया नहीं. तो उसने कहा की क्या मेरे साथ करना चाहोगे? तो मैं थोड़ी देर चुप रहा और अचानक उनको लिप किस करने लगा.

और फिर मैंने उनके बूब्स को भी दबाना चालू कर दिया. उसने मेरे लंड को पेंट के ऊपर से ही सहलाना चालू कर दिया. फिर मैंने उनके गाउन को निकाला. अब वो सिर्फ ब्रा और पेंटी में ही थी. मैंने उनकी ब्रा को खोला दिया और जोर जोर से उनके बूब्स को चूसने लगा. कभी कभी बाईट भी कर रहा था. तो वो भी जोश में आ रही थी. उसने मेरे कपडे उतारे और मेरे लंड को हाथ में पकड़ के सहलाने लगी.

और वो बोली की मैं कभी इतना बड़ा लंड नहीं लिया तुम्हारे बॉस का तो ठीक से खड़ा भी नहीं होता है. उसने कहा उस दिन तुम आये तभी से मैं तुमसे चुदवाना चाहती थी. फिर मैंने भी उनको एकदम नंगा कर दिया और 69 की पोजीशन में आ गए हम दोनों. उनकी चूत का टेस्ट बहुत ही मीठा लग रहा था. वो भी मेरा लंड बड़े प्यार से चूस रही थी.

करीब 10 मिनिट्स बाद उसने का की अब नहीं रहा जाता है. तो मैंने उनकी चूत पर लांद रखा और जोर से शॉट मारा तो आधा लंड उनकी चूत में चला गया. और वो चिल्लाने लगी स्लो स्लो करो बहुत दर्द होता है. फिर मैं थोड़ी देर स्लो शॉट्स मारना स्टार्ट किया और उनके बूब्स को भी दबाने लगा.

फिर उनको भी मजा आने लगा तो वो ऊपर निचे होने लगी तो मैं समझ गया की वो अब मूड में आ चुकी थी. तो मैंने फिर से जोर से शॉट मारा तो पूरा लंड उनकी चूत में चला गया. अब वो अह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह उह्ह्ह की सिसकियाँ ले रही थी. वो भी बहुत मजे से चुदवा रही थी. करीब 15 मिनिट के बाद मैं निचे आया और उसने मेरे ऊपर आकर चूत में लंड ले लिया और उछलने लगी. मैं उनके बूब्स को दबाने लगा और कभी कभी बाईट भी कर रहा था.

करीब 10 मिनिट के बाद वो थक गई और मैंने उनको घोड़ी बना दिया. और मैं अब पीछे से उनकी सेक्सी देसी चूत में अपना लंड डाल के शॉट्स मारने लगा. मैं एकदम जोर जोर से शॉट्स मार रहा था. और वो भी उतनी ही मस्ती से अपनी गांड को हिला हिला के चुदाई के मजे ले रही थी. उसके मुहं से अह्ह्ह अह्ह्ह्ह उईइ अह्ह्ह इस्सस अह्ह्ह ओह्ह्ह ओह्ह्ह की आवाजें भी निकल रही थी. और चूत और लंड के घिसने से पच पच की जोर की आवाजें आ रही थी.

मैंने घोड़ी वाले पोज में ही उन्हें करीब 10 मिनिट्स तक और चोदा. और इस चुदाई में वो आलरेडी दो बार अपना पानी छोड़ चुकी थी. मेरे लंड का पानी भी अब एकदम धार पर आ चूका था. तो मैंने उन्हें कहा की मेरा पानी निकलने वाला है. तो उसने कहा मेरे अन्दर ही निकाल दो क्यूंकि बहुत दिनों से मेरी चूत ने लंड के पानी की गर्मी महसूस नहीं की है.

मैंने निराली को एकदम कस के अपनी बाहों में ले लिया और जोर जोर से चोदने लगा. और तभी मुझे लगा की जैसे बदन का सब खून लंड की तरफ बह निकला था. और मेरे बदन में एक अजीब सी गर्मी भी आ गई थी. मैंने अह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह कर के अपने लंड का सब पानी एक एक बूंद कर के निराली मेडम की चूत में ही छोड़ दिया. और वो मुझे कस के पकड के चूम रही थी. उसे ही लंड का पानी अपनी चूत में निकलवा के जैसे कितना मज़ा आ गया था! हम दोनों के ही बदन एकदम पसीने वाले हो गए थे. और मैंने धीरे से उसके कंधे को किस किया और फिर बूब्स को भी. मैं जानता हूँ की सेक्स के बाद आफ्टर प्ले देने से किसी भी औरत को बहुत मजा आता हैं. इसलिए मैंने निराली के साथ सही से आफ्टर प्ले किया.

कुछ देर तक ऐसे ही रहने के बाद मैं लेट गया. और वो मेरे ऊपर आकर मुझे किस करने लगी. मेरे लंड को उसने चाट के एकदम साफ़ कर दिया. निराली ने मुझे बोला की आज बहुत दिनों के बाद मुझे सेक्स में बड़ी मजा आई है. उसने कहा की और तुम्हे देख के लगता नहीं है की तुम नए खिलाड़ी हो सेक्स के. मैंने कहा मैं पोर्न देखता हूँ इसलिए मुझे पता है की कैसे चोदते है.

ये कह के मैंने उसे आँख मार दी. मैं भी निराली का दीवाना हो गया था. और उसे भी मेरे लंड की लत लग गई थी फिर तो. बॉस जब बहार हो तो मैं अक्सर उसके घर जा कर उसे चोद आता हूँ आज भी!!

You might also like