Home / Gay SEX

Gay SEX

दो लडकियों ने किया रेप: Rape SEX Stories

प्रेषक : लक्की मेरा नाम लक्की हे.. मेरी उम्र 22 साल हे ओर मैं कराची मैं रहता हूँ ओर अक्सर में इस साइट पर कहानिया पढ़ता रहता हूँ. एक साल पहले की बात हे मैं कॉलेज से वापसी पर बस के इंतज़ार मैं स्टॉप पर खडा था. कुछ देर मैं …

Read More »

मोवी थिअटर में लंड चूसा मेरा और गांड मरवाई

Kamasutra Chudai Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex सलाम दोस्तों, यह मेरी पहली स्टोरी है इसलिए कोई गलती हो तो इगनोर कर देना, अब मैं अपनी स्टोरी पर आता हूँ. यह बात तब की है जब मैं १२थ स्टैण्डर्ड में था. मैंने अपनी १०थ तक की पढाई अपने होमटाउन से …

Read More »

मेरा दोस्त मुझसे गांड मरवाने को बेताब (Mera dost mujhse gand marwane ko betaab)

प्रेक्षक : आकाश पटेल बात एक साल पहले की है। एक लड़का विराज वो रिवर्स गियर था, जब तक कोई उसकी गांड नहीं मारता तब तक उसका लौड़ा खडा नहीं होता था। वो हमेशा मेरे से अपनी गांड मराने के लिए बेताब रहता था। तो एक दिन मैंने उसको कहा- …

Read More »

ट्रेन मे गांड मराई – Hindi Gay story

मैं अनु मिश्रा हू … मैं ये एक साची घतना बता रहा हू,,इसमे वो ही सब ह जो सच मे हुआ था,सबसे पहले मैं उस टाइम 20 साल का था. मैं स्लिम हू नॉर्मल कलर, मेरे बॉडी पर बाल नही ह क्यूकी मैं रेग्युलर्ली सॉफ कराता रहता हू,,मैं काफ़ी पहले …

Read More »

Dost ne mast gaand mari meri- Gay Version

Hello dosto, mere ek dost ka naam adnan hai, wo mujhse karib 8 saal bada hai. yani uski umra 26 saal hai or uska kad 6 foot 4 inch hai, wo hamesha dilchasp baate sonata hai isliye hamare group mai kafi ladke use pasand karte hai. uske gharwale hamare ghar …

Read More »

दोस्त ने गांड चोदकर मजा दिया

हैल्लो दोस्तों, मेरे एक दोस्त का नाम अदनान है, वो मुझसे क़रीब 8 साल बड़ा है. यानी उसकी उम्र 26 साल है और उसका कद 6 फुट 4 इंच है, वो हमेशा दिलचस्प बातें सुनाता है इसलिए हमारे ग्रुप में काफी लड़के उसे पसंद करते है. उसके घरवाले हमारे घर …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें