भाई बहन

बहन की चुदाई की सच्ची सेक्स कहानियाँ. भाई ने मुझे चोदा, बहन की चूत, चूत में लंड, लुंड की चुसाई, छोटी बहन मस्त करके लंड चूसती है मज़ा आ जाता है उसके मुह में लंड डाल के.. दीदी की गांड. गांड में चुदाई, दीदी की चूत चोदी

बहन की चूत की सील तोड़ने में दर्द (Bahan Ki Chut Ki Seal Todne me Dard)

मेरा नाम सागर है, मैं राजस्थान के कोटा का रहने वाला हूँ। मैंने http://hindisexkahani.in/ पर बहुत सारी कहानियाँ पढ़ी हैं। आज मैं मेरी सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ। बात उन दिनों की है.. जब मैं पढ़ाई पूरी करके अपनी बुआ के यहाँ घूमने के लिए जयपुर गया था। आप लोगों …

Read More »

रक्षाबंधन के दिन सगी बहन की चुदाई

नमस्कार जी­  मै रवी उर्फ़ राजेश औ­र एक कहानी के साथ हाज­ीर हू। मै आपके वेबसाईड के ल­िये बहुत सारी कहानीया­ भेजना चाहता हू।  क्रुपया मेरी ये कहा­नी छाप दिजिये। धन्यवाद !!!­ तो पेश है मेरी कहानी­, नमस्कार दोस्तो, मै ब­हेनचोद रविराज फ़िर एक ­बार एक नई कहानी के सा­थ …

Read More »

क्या भैया मेरा दूध नहीं पिओगे आप

हेलो फ्रेंड्स’ मैं आपकी प्यारी सी और चुलबुली समिता आज एक बहुत दिनो बाद आपको अपना अनुभव बताने आई हूँ पता नही क्यों लेकिन अपने कज़िन से चुदवाने के बाद तो मैं और भी सेक्सी हो गयी हूँ ऐसा मेरा भाई कहता है रियल ब्रदर. वो मुझसे 2 साल छोटा …

Read More »

दीदी की ब्लू फिल्म की तैयारी

दोस्तों नमस्कार में दीदी का भाई.. दोस्तों में आज आप सभी के सामने एक बिल्कुल ही चकित कर देने वाली कहानी लेकर आया हूँ और में उम्मीद करता हूँ कि आप भाइयों और बहनों को मेरी यह मेरी सच्ची कहानी बहुत पसंद आएगी। इस कहानी के कई किरदार हैं.. लेकिन …

Read More »

भैया गांड में धीरे से घुसाओ, दर्द होता है (Bhaiya Gand Me Dhire Se Ghusao Dard Hota Hai)

मैं कितना बड़ा गांडू हूँ.. आपको मेरी कहानी पढ़कर ही पता चल जाएगा.. पर मैं करूँ क्या.. मुझे गांड मारना बहुत अच्छा लगता है। मैंने गांड मारने के लिए अपनी जवान खूबसूरत बहन को किस तरह से राजी किया.. और वो भी तब.. जबकि वो कह रही थी- भैया गांड …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें