Home / Hinglish SEX Kahani / Bhabhi ki Chudai

Bhabhi ki Chudai

Devar bhabhi sex stories, bhabhi ki chudai kahaniya, antarvasna indian bhabhi kahani. Bhabhi sex stories hindi, real hindi sex stories, devar bhabhi sex kahani with photo

पड़ोस वाली रेखा भाभी की चुदाई

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अजय है और में गुजरात के अहमदाबाद शहर से हूँ. में इस साईट का बहुत पुराना पाठक हूँ और में इस साईट की सभी स्टोरी पढ़ चुका हूँ. अब पहले में आपको अपने बारे में बता दूँ कि में दिखने में स्मार्ट हूँ और मेरी उम्र …

Read More »

ठंडी रात में भाभी की चुदाई

हैल्लो दोस्तों, ये बात आज से करीब 2 साल पहले की है. मेरी दुकान पर एक भाभी आया करती थी, वैसे उन्हें सिर्फ़ भाभी कहना ग़लत होगा, क्योंकि वो तो परी जैसी थी. उनका रंग एकदम गोरा था और उन्हें जहाँ से पकड़ लो तो टमाटर की तरह लाल पड़ …

Read More »

मेरा दिवाना देवर चोदे मुझे नये तरीके से

प्रेषक : प्रीति हेल्लो,  मेरा नाम प्रीति है. मैं शादीशूदा हूँ. शादी के एक साल बाद की एक घटना मैं आज आपको बताती हूँ. मैं अपने पति के साथ रहती थी. घर मे हम दो ही रहते थे. वैसे मैं बहुत सेक्सी हूँ लेकिन अपने पति से खुश थी. वो भी …

Read More »

हनी भाभी की चुदाई की और गांड मारा

दोस्तों में नीरज आपको एक बहुत ही मजेदार सेक्स कहानी सूना रहा हु, आशा करता हु, की आपको मेरी ये कहानी बहुत हॉट लगेगी, ये कहानी सच्ची कहानी है, मैंने एक जवान और टाइट औरत की चुदाई कल ही की है उन्ही के बारे में ये कहानी है, मेरी उम्र …

Read More »

नीलू की एक रात की कीमत

प्रेषक : रिंकू … हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रिंकू है और में आज एक बार फिर से आप सभी के सामने अपनी एक और सच्ची घटना लेकर आया हूँ। दोस्तों मेरी आज की यह कहानी एक नई शादीशुदा लड़की की है, उसकी शादी को अभी कुछ ही समय हुआ है …

Read More »

भाभी की मस्त चिकनी चूत की चुदाई

हेलो प्यारी भाभियो और गर्ल्स एंड फ्रेंड्स. आज मैं आप सब को अपना रियल सेक्स एक्सपीरियंस बताने जा रहा हूँ. तो पहले मैं अपने बारे में बता देता हूँ. मेरा नाम रोनित है और मेरी हाइट ६.१ फीट है और बॉडी एक दम स्लिम है और मेरा पेनिस भी ७.५ …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें