Home / Hinglish SEX Kahani / Padosan ki chudai

Padosan ki chudai

Padosan ki chudai ki hindi kahaniya, sex stories in hindi, padosan bhabhi ki madmast jawani aur chut chudai, padosi ke ghar me chudai

चुदाई की जंग

उन दिनों मैं बहुत बुरे फेज़ से गुज़र रहा था मेरी गर्ल फ्रेंड तृप्ति ने मुझे  बिना कोई रीज़न दिए डंप कर दिया और फिर बात भी करनी बंद कर दी थी, इस ट्रॉमा के दो कारण थे और वो ये कि एक तो हम दोनों शादी करने वाले थे …

Read More »

पति चोद नहीं सकता इस वजह से सिक्योरिटी गार्ड से चुदवाई

दोस्तों मैं एक पढ़ी लिखी 28 साल की खूबसूरत महिला हू, मेरी शादी को हुए 3 साल हो गये है, मैं कभी भी किसी दूसरे पुरुष की तरफ आँख उठा के नही देखी ना तो कोई मेरा बाय्फ्रेंड था, अक्सर मैं कॉलेज मे सारे लड़कियों को चूड़ते सुना था, जो …

Read More »

हर तरह का मजा दूंगी: कॉलेज की मस्त लडकिया

प्रेषक : निशा निशा, मेघना और  नेहा तीनो एक ही कॉलेज में एक ही क्लास में पढ़ती है . तीनो आपस में गहरी दोस्त है . एक दूसरे के साथ हमेशा रहती है . तीनो कॉलेज में बड़ी मशहूर है पढने में भी और शैतानी करने में भी .तीनो अपनी …

Read More »

पड़ोस की कच्ची कली को चोदा फुल मूड में

प्रेषक : गुमनाम मे गांव से शहर के घर मे शिफ्ट हुआ था की मेरी मुलाकात मेरी पड़ोसन से हो गयी. उसका नाम था कंचन. मेरी उम्र 19 साल है ओर कंचन की 20 । उसके साथ मेरी पहली मुलाकात उसके घर पर ही हुई थी. हम दोनो का घर …

Read More »

मेरी पहली चुदाई उसमे भी दो लड़के छोटी सी चूत और मोटा लंड

हेलो दोस्तों, दिल्ली की चका चौंध में पता नहीं लोग कितने अरमान और सपने देखते है, किसी का पूरा होता है किसी का नहीं होता है, पर सबको एक दूसरे से एडवांस बनने की होड़ है, अगर किसी को बॉय फ्रेंड नहीं है या तो किसी को गर्लफ्रेंड नहीं है …

Read More »

लाईन मारी बेटी पे, पट गई माँ (Line Mari Beti Pe, Pat Gai Maa)

दोस्तो, आज मैं आपको अपने एक मित्र के मित्र की सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ। ये बात करीब 20 साल पुरानी है। जब मेरा मित्र और उसका मित्र दोनों स्कूल में पढ़ते थे। दोनों गहरे दोस्त थे, हर दम साथ। तो लीजिये कहानी सुनिए। मेरा नाम सुनील है, मैं …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें