Home / हिंदी सेक्स कहानियाँ / पहली बार चुदाई / क्या खुबसूरत लगती हे मेरी भाबी

क्या खुबसूरत लगती हे मेरी भाबी

मेरा नाम विकास है एक 20 साल का मोरे तन अवग लड़का जिसकी जिम फिट बॉडी है मैं देल्ही का रहाँे वाला हूँ और देल्ही मे हमारे घर के सामने एक भाभी रहती है, उनका हुमारे घर मे आना जानना है और उनके हज़्बेंड बूससिनएस्स मन है ओर एक्सर बाहर रहते है और उनकी शादी को अभी 3 साल हुए है ओर भाभी जिनका नाम अंजू है अभी भी 18 साल की ज्वान लड़की लगती है और उनका फिगर किसी आप्सरा से कम नही है दूध सा गोरा रंग और मोटे मोटे बूब्स और एक रौंद शेप वाली गांद क्या मस्त चीज़ है, उनका एक बीता है जो अभी 2साल का है और मैं एक्सर उसे खिलाने घर जाता था, एक दिन मेरे अंकल की डेत हो गयी तो मम्मी और पापा को वाहा जाना पड़ा ओर मैं 5 दिन के लिए घर मे एकेला था तो मेरी मम्मी ने भाभी को ध्यान रखने को कहा ओर खाने का भी कह दिया, वीकेंड्स चल रहे थे मेरे तो मैं घर ही रहता था भाभी की गांद याद करके मूठ मरता रहते और 2दिन यू ही निकाल गये.

नेक्स्ट दे भाभी बाहर जा रही थी तो भाभी ने कहा की तुम मेरे घर आकर ही सो जाना तो मैं खुश हो गया और एक दम से हाँ करदी, उस दिन मैं सारी शाम मूठ मरता रहा और भाभी को चोदने के सपने लेता रहा और 8 बजे रात को मैं उनके घर गया तो भाभी की रेड और ब्लॅक नाइटी देख कर मेरे लोवर मे टेंट बन गया जिसे उन्होने नोटीस किया और मूड कर किचन मे चली गयी, खाना खाने बाद जब भाभी बुर्तन लेने के लिए जुखी तो मेरी नज़र उनके चुचों पर पड़ी और मैं दंग रह गया उन्होने ब्रा नही डाली थी और क्या नहीपल्स थे मॅन तो कर रहा था की पकड़ लून पर गांड भी फट रही थी, ये देख कर मैं बुरहरूम मे चला गया और मूठ मरने के बाद आया तो भाभी बेबी को सुला चुकी थी और पूछा कहा थे तो मैने कहा फ्रेश होने गया था तब उनका रिप्लाइ आया की कुछ ओर तो नही हो रहा था तो तब मैने एक दम से कहा की आपको देख कर होठा है कुछ तो तो तब भाभी कहती मुझे भी ब्ताओ क्या होठा है,

तब मैने कहा की आपको टा तो है तब भाभी कहती वही जो ड्रवाज़े पर हुआ था तो मैं हैरान रह गया ओर शरम के मारे मूह नीचे कर लिया तो उन्होने ने मेरा हाथ पकड़ कर कहा की क्या तुम्हे मैं अच्छी लगती हूँ, तो मैने लकी सी स्माइल दी बुत मन मे तो मैं सोच रहा था की चुत तो मिले और मैं गरम ही था की तभी भाभी ने मुझे पास करा ओर कहा की तुम किसी को ब्टाओगे तो नही तो मैने जवाब दिया क्या तो उन्होने मेरे लिप्स पर किस की और कहा ये, तो मैने रिप्लाइ मे उनके चुचो पर छुट्टी करि ओर कहा की अगर आप ये नही ब्टाओगे तो फिर क्या था मैने उन्हे बाँहो मे भर लिया ओर पागलों की तरहा चूमने लगा और मैं उनकी सुउगंध से पागल हो रहा था ओर जैसे ही मेरे हाथ उउकी नाइटी उतरने के लिए आयेज गये तो उन्होने मुझे टा कर बाथरूम मे जाने को कहा और मैं च्ला गया, बाथरूम मे जाकर मैने आपने सारी कपड़े उतरे तो इतने मे भाभी आ गयी और कहती ओहू तुम जल्दी मे हो पर मैं तो आज आराम से कृंगी.

तो मैने कहा की मैं तो सेवा करना चाहता हूँ तो वो हासने लगी और शवर चला दिया और मुझे साहबों लगा कर नहलाया और मेरे बाल सॉफ किए और मेरे लॅंड को आपने नरम हाथो मे लेकर चूसने लगी और कभी मेरे पूरे के पूरे टाटटे ही मूह मे लेकर मेरी मूठ मारती कभी टेट दबा देती मुझे मज़्ज़ा तो आ रहा था पर दर्द से फट भी रही थी, उनकी नाइटी गिल्ली हो चुकी थी अब वो मेरा लॅंड चूस्ते चूस्ते आपनी चुत रगड़ने लगी और इंते मे मेरा माल सारा उनके मूह पर गिर गया और उन्होने मेरा लॅंड आपने मूह से सॉफ किया ओर खड़े होकर मुझे चूम कर बेद्द पर जाने को कहा और बेड पर लेता ही था की वो कॉंडम लेकर आई और लॅंड पे चढ़ने लगी, मेरा लॅंड टन कर 7” का हो गया और वो उसे पागलों की तरहा चूसने लगी कभी आपनी जीभ से चट्टी तो कभी पूरा मूह मे लेती और मैं पागल हो रहा था और एक दम से पिचकारी मारी उनके मूह पर और वो सारा माल पे गयी, अब मेरी बारी थी तो मैने उनको उपर लेटया और उनकी नाइटी फाड़ दी.

तो उन्होने कहा “बहेनचोड़ तेरा बाप लाकर देगा” इससे मुझे गुस्सा आया ओर मैं उनके बूब्स पर काटने लग गया और फिर उनकी चुत पर मूह रख कर मैने उसे कुत्टो की तरहा चट्टा, अब 10 मिंट मे वो 3 बार झाड़ गयी और मैं सारा पानी पे गया और अब मैं उनकी तड़प समझ रहा था ओर मैं उन्हे ओर तदपाना चाहता था तो मैं चुत मे उंगली डालने लगा ओर स्पेड तेज़्ज़ करदी ओर वो पागलों की तरहा मेरा लॅंड आपने चुत के पास करने लगी और फिर जब उनकी तड़प काफ़ी बाद चुकी थी तो मैने एक दम से उनकी चुत मे लॅंड डाल दिया एक ही झटके मे पूरा अंडर डाला तो वो चीखने लगी उनकी आँखों मे आँसू आ गये और मैं थोडा रुक गया पर थोड़ी देर बाद मैने धक्के लगाने शुरू करे और वो आपने गूल चूतड़ उठा कर साथ देने लगी, करीब 15 मिंट के बाद मैने आपना सारा पानी उनकी चुत मे डाल दिया और उन पर लेट कर उन्हे चूमने लगा और कुछ डियर बाद मैने उन्हे उपर आने को कहा और वो उपर आकर उछालने लगी और मैं उनके चुचे दबाने लगा.

पानी निकालने की वजा से पूरे कमरे मे छाप छाप हो रही थी और 20 मिंट के बाद मैने उन्हे कहा की पानी कहा डालु तो उन्होने उपर से हट कर मूह मे लॅंड लेकर चूसने लगी ओर मैने पानी उनके मूह और बूब्स पर डाल दिया और वो मेरा लॅंड चाट कर सॉफ करने लगी ओर फिर मेरे साथ बेड पर लेट गयी ओर लेते लेते मैं उनकी गांद मे उंगली डालता रहा और वो मेरा लॅंड सहलाती रही, उस रात मैने उनकी गांद भी मारी और लीक भी की और हमने डिफ़्फरेंट पोज़ीशन मे सेक्स भी किया और मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी कहानी पसंद आई होगी

वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें