मेरी बीवी और उसका दोस्त

प्रेषक : अनुराग ..

हैलो दोस्तों.. मेरा नाम अनुराग है मैं हरियाणा में रहता हूँ। मैं शादीशुदा हूँ और 5 साल पहले मेरी शादी हुई थी। मेरी बीवी का नाम नीलम है.. वो स्कूल में मेरी जूनियर थी। हमारे बीच में प्यार हुआ और फिर हम एक ही कॉलेज में पढ़े और उसके बाद हमारी शादी हो गयी। हमारा कोई बच्चा नहीं है। इसकी वजह मेरा लो स्पर्म काउंट है। पहले मैं अपनी बीवी के बारे में बताता हूँ फिर अपने बारे में.. मेरी बीवी का फिगर 32-26-34 है और हाईट 5.3″ इंच, चेहरा गोरा है। मैं उससे बहुत प्यार करता हूँ। मेरी हाईट 5.5″ है और लंड का साईज़ 5.11 इंच है शायद इसी वजह से मेरी बीवी मुझसे संतुष्ट नहीं थी।

पहले तो हम बहुत मजे करते थे पर शादी के 2 साल बाद उसे मेरा लंड बेकार लगने लगा पर मुझे उस पर विश्वास था कि वो कभी मुझे धोखा नहीं देगी.. लेकिन मैं ग़लत था। एक दिन की बात है हमारे घर पर उसका बहुत पुराना दोस्त मिलने आया.. जो स्कूल में उसका क्लासमेट था.. वो उसके साथ कुछ ज्यादा ही फ्रेंक हो रही थी। मुझे लगा कि पुराने दोस्त हैं इतना तो चलता है वो उसके साथ कुछ ज्यादा ही फ्लर्ट कर रही थी। फिर वो चला गया पर नीलम बहुत ही खुश थी। ऐसे ही एक महीना बीत गया वो बताती थी कि वो कब कब घर आया करता था। एक दिन मुझे ऑफिस से जल्दी छुट्टी मिल गयी।

मैंने सोचा आज नीलम के साथ फिल्म देखने जाऊंगा और में जैसे ही घर पहुँचा तो मुझे किचन से कुछ आवाज़ आई.. आवाज़ मेरी बीवी की थी। प्लीज़.. रवि यह ठीक नहीं है मैं शादीशुदा हूँ। मेरा दिल काँप गया और मैं चुपके से किचन की तरफ गया तो मैंने देखा कि मेरी बीवी का दोस्त उसकी गांड से चिपक कर खड़ा है। मुझे गुस्सा आ गया.. लेकिन पता नहीं क्यों मेरे दिल में आया कि देखते है कि मेरी बीवी क्या प्रतिक्रिया देती है। वो कुछ कुछ रिएक्ट कर रही थी। रवि ने फिर नीलम को अपनी तरफ घुमाया और झट से उसके होंठ चूमने लगा तो में काँप गया। मेरी बीवी उसे हटाने लगी पर उसकी पकड़ बहुत ही मज़बूत थी। वो 10 मिनिट तक ट्राई करती रही। फिर रवि ने नीलम के बूब्स दबाने शुरू कर दिए.. नीलम लड़खड़ाने लगी। उसके दिल में सेक्स उजागर होने लगा था। वो उसकी किस को रेस्पॉन्स तो नहीं कर रही थी पर वो उसको रोक भी नहीं रही थी। उसकी सेक्स की हवस हमारे रिश्ते के बीच में आने लगी थी। रवि ने उसका टॉप उतार दिया और मैंने देखा कि उसने अलग ही ब्रा पहनी थी जो कल तक उसके पास नहीं थी। मुझे लगा कि वो ब्रा उसे रवि ने ही ला कर दी होगी।

फिर उसने नीलम की ब्रा फाड़ दी और मेरी वाईफ के 32 साइज़ के बूब्स आज़ाद हो गये। अब वो एक हाथ से उसे दबाता और दूसरे बूब्स को मुँह में ले कर चूस रहा था। मेरी बीवी कोई रेस्पॉन्स नहीं दे रही थी। ऐसा 10 मिनिट तक चला और अंत में मेरी बीवी का सब्र का बाँध टूट गया। उसने उसके बालो में हाथ डाले और उसे ज़ोर से अपने बूब्स पर दबाया। मैं जान गया था कि मैंने अपनी बीवी को खो दिया है और वो भी एक ऐसे आदमी के हाथों जिसके बारे में मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि वो कभी ऐसा भी करेगा। उसने 5 मिनट और उसके बूब्स चूसे और फिर मेरी बीवी ने उसे ऊपर खींचा और उसे स्मूच करने लगी। उसने उसे फ्रेंच किस किया। अब मैं अपनी बीवी को पूरी तरह से खो चुका था। फिर रवि ने नीलम को गोद में उठाया और डाइनिंग टेबल पर लेटा दिया.. उन्होने 5 मिनिट तक किस किया।

फिर उसने नीलम की जीन्स उतारी तो मैंने देखा कि उसने पिंक कलर की पेंटी पहनी थी। वो हमेशा मुझे बोलती थी कि उसे यह सब पसंद नहीं है.. पर आज उसको देखकर मैं जान गया कि यह दोनों पिछले एक महीने से फ्रेंड्स की तरह मिलने के अलावा कुछ ज्यादा ही कर रहे थे। उसने उसकी पेंटी को भी फाड़ दिया और मेरी नीलम की टाईट चूत उसके सामने आ गयी। उसने मेरी बीवी की चूत पर एक हल्की सी किस दी और वो मचल उठी। उसने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया और कुछ ही देर में वो झड़ गयी। फिर रवि ने नीलम की चूत के अंदर उंगली देना शुरू किया। पहले तो एक उंगली डाली.. नीलम तो मरे जा रही थी। वो फिर से झड़ गयी जैसे ही उसने अपनी दूसरी उंगली डाली वो चिल्ला उठी.. यह देखकर रवि के चेहरे पर मुस्कान आ गयी। दोस्तों ये कहानी आप xVasna.com पर पड़ रहे है।

उसने नीलम से कहा 5 साल से तुम जिस लंड को ले रही हो.. तुम्हारी चूत को देखकर लगता है कि वो 5 इंच का ही होगा। नीलम यह सुनकर उठी और उसकी पेंट उतार दी जैसे ही उसने अंडरवियर को नीचे किया तो मेरी आँखें फट गई.. उसका लंड लगभग 7 इंच का था। नीलम के चेहरे पर मुस्कान आ गयी। उसने उसका लंड अपने मुँह में लिया और वो 15 मिनट तक उसे चाटती रही। उसने नीलम को उठाकर डाइनिंग टेबल पर लेटाया और अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ा। मैं घबरा गया कि आज मेरी बीवी किसी और के साथ सो गयी। उसने एक धक्का पूरे ज़ोर से लगाया और पूरा 7 इंच का लंड नीलम की बुर में घुसेड़ दिया.. नीलम तिलमिला उठी। उसकी आँखों से आँसू बहने लगे.. ज़ाहिर सी बात है कि वो ख़ुशी के आँसू थे। रवि ने धक्के लगाने शुरू कर दिए। नीलम सिसकियां ले रही थी.. 1 ही मिनिट मैं वो झड़ गयी। अब वो उसे और ज़ोर से चोदने लगा। नीलम भी उसका साथ देने लगी थी। 20 मिनट और बीत गये और इस दोरान नीलम 5 बार झड़ चुकी थी। मेरे साथ सोते वक़्त वो कभी कभी ही झड़ती थी। अब रवि और तेज़ हो गया और नीलम भी अपनी गांड हिलाकर मजे लेने लगी। 5 मिनिट के बाद रवि बहुत ही ज़ोर से चिल्लाया और उसने अपना स्पर्म मेरी बीवी नीलम की चूत में छोड़ दिया। नीलम भी एक बार फिर झड़ गई। वो नीलम के ऊपर ही सो गया और किस करने लगा। मैं वहाँ से एक हारे हुए इंसान की तरह चला गया। अब मेरी बीवी को गर्भ का तीसरा महीना शुरू हो गया है। मैं आज भी यही सोच रहा हूँ कि मेरे लंड के छोटे होने की वजह से मेरी बीवी किसी और के बच्चे की माँ बन गई। वो आज भी नीलम से मिलने आता है और मेरी लाचारी का फ़ायदा उठाता है ।।

धन्यवाद …

You might also like