xVasna.com
Desi SEX Kahaniya

प्लंबर के लंड का पानी पिया

हेलो दोस्तों में रुपाली, मैं आपके लिए मेरा एक नया सेक्स अनुभव लेकर आई हूं, लेकिन पहले मैं सब आपको थैंक्यू बोलना चाहूंगी मेरी स्टोरी पढ़ने के लिए और मुझे मोटिवेट करने के लिए. आय हॉप मुझे सब मेल करेंगे मुझे ऐसे ही मोटिवेट करते रहेंगे..

तो दोस्तो आपको तो मेरी सेक्सी बोडी और मिल्की बूब्स के बारे में तो पता ही है. फिर भी जो नए रीडर है उनको मैं बता दूं, मैं कोल्हापुर से बिलॉन्ग करती हूं और मैं पुणे में मेडिकल की स्टडी कर रही हूं. मेरी उम्र २२ साल है मैं ५ फुट ऊँची हु. मेरी फ़िगर ३४-२६-३२ है, मैं दूध जैसी गोरी, गुलाब जैसे मेरे होंठ है. मैंने ३ साल पहले मेडिकल कॉलेज जॉइन किया था. तब मेरा इतना अट्रैक्टिव फिगर नहीं था. मेरी चेस्ट पूरी फ्लेट थी.

दोस्तों में स्टोरी पर आती हूं, यह इंसिडेंट मेरे साथ एक हफ्ते पहले हुआ था. मैं जिस बिल्डिंग में रहती हूं वह १५ साल पुरानी बिल्डिंग है, और वहां एक दिन बिल्डिंग के सेक्रेटरी ने प्लंबिंग का काम निकाला था, मेरे फ्लैट में भी बहुत सारा प्लंबिंग का काम होने वाला था.

प्लंबर का नाम उस्मान था, लोग उसे उस्मान भाई बुलाते थे, उस्मान बहुत स्ट्रांग और तगड़ा मुस्लिम मर्द था. उसकी उम्र ४५ साल के आसपास होगी लेकिन वह बहुत मस्क्यूलर था. उसकी हाइट ६ फुट से भी ज्यादा थी, उसका स्किन कलर सावला था. लंबी दाढ़ी थी जो आधी सफेद और आधी ब्लैक थी,  उसके हाथ बहुत सख्त और रफ बन गए थे.

मॉर्निंग को उसने मेरे फ्लैट में प्लंबिंग का काम शुरू किया, मैं बीच बीच में वह क्या कर रहा है वह चेक करने किचन बाथरूम में जाति रहती थी, तब वह मुझे घूरता रहता था. उसका घुरना मुझे भी अच्छा लगने लगा, मैं जानबूझकर उसको अपनी क्लीवेज बोबे दिखाने लगी, मैं जानबूझकर पंजाबी ड्रेस सिंपल पतला सा टी शर्ट विदाउट ब्रा पहन कर उसके सामने जाती थी, और वह मेरी बूब्स को घुरता रहता था.

एक दिन मैं कॉलेज से लौटी थी और बेडरूम में जाकर कपड़े बदल रही थी, मैं टॉपलेस होकर अपने बूब्स को मिरर में देख रही थी. थोड़ी देर बाद में नोटिस किया कि बेडरुम का दरवाजा लॉक नहीं है. उस्मान मुझे देख रहा है, मैं जल्दी से दरवाजे की तरफ मुड़ी और उस्मान जल्दी से किचन में भाग गया.

मैं टॉपलेस थी, मैंने बस नीचे जींस पहनी थी, मैं वैसे ही किचन में आ गई और दोनों हाथ कमर पर रखकर खड़ी हो गई और उस्मान को बोली आप मेरे बेडरुम में क्या देख रहे थे?

उस्मान ने पीछे देखा तो मैं टॉपलेस खड़ी थी, उसकी नजरें मेरे बोबे से हट नहीं रही थी, मैं एक ब्राम्हण गोरी सेक्सी लड़की एक तगड़े मुस्लिम मर्द के सामने टॉपलेस खड़ी थी.  मैं आगे बढ़ी और उस्मान का हाथ पकड़कर मेरे बोबे पर रख दिया और बोला आप मेरे बूब्स को देख रहे थे ना? उस्मान देखता ही रह गया, आपको मेरे बूब्स देखने थे ना देख लो..

यह सुनकर वह मेरे बोबे पर हाथ घुमाने लगा, उस का हाथ बहुत तगड़ा था उस्मान मेरे दोनों निप्पल को अंगूठे से रब कर रहा था, हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देख रहे थे. उस्मान मेरे बोबे के साथ खेल रहा था, थोड़ी देर खेलने के बाद वह मेरे होंठ को किस करने लगा, मैं पहले टाइम मुस्लिम मर्द को किस कर रही थी, मेरा टेंपरेचर बढ़ रहा था.

उस्मान ने मुझे उठाया और बेडरूम में लेकर गया, उस्मान के हाथो में बहुत ताकत थी, उस ने मुझे बेड पर लेटा के अपने कपड़े उतारने लगा, उस्मान की बॉडी बहुत खतरनाक थी. उस्मान का लंड १० इंच लंबा और ३ इंच मोटा था, इतना बडा लंड यह पहली बार देख रही थी, आज मेरी फूल जैसी चूत को उस्मान का लंड फाड़ कर रखने वाला था.

उस्मान मेरे ऊपर आया और मुझे जोर से किस करने लगा, हमारी सांसो की आवाज पूरे रुम में गूंज रही थी, किस करते करते उस्मान मेरे निपल को अपने हाथों से मसल रहा था, उसने मेरा एक निप्पल मुंह में भर लिया और चूसने लगा, उस्मान बहुत अच्छे से मेरे निप्पल चूस रहा था और मेरा दूध पी रहा था.

मैं उस के बालों में हाथ घुमाकर उसके सर को अपने बूबे पर दबा रही थी. उस्मान की जुबान मेरे निप्पल से खेल रही थी, उस्मान की दाढी मेरे बूब्स को घीस रही थी और मैं बहुत एक्साइट हो रही थी, उस्मान ने मेरे बूब्स का दूध खत्म कर दिया और निप्पल पर काटने लगा, मैंने कहा जरा धीरे काटो ना, दूसरे बूब्स में भी दूध हे.

उस ने अपना मुह दूसरे निपल पर रख लिया और वह उसे चूसने लगा, मेरी चूत बहुत गर्म हो गई थी और में उस्मान भाई और चूची का पूरा दूध पी जाओ. मेरे निप्पल के साथ खेलो ऐसा बोल रही थी.

उस्मान रुपाली जी मैं आपके बूबे को बहुत दिनों से देख रहा था और मुझे हिंदू लड़की के बोबे बहुत अच्छे लगते हैं, और आप के बूब्स में दूध भी है और मुझे चूसने को भी मिल रहे हैं.

उस्मान ने मेरे दोनों बूब्स को मसल कर लाल कर दिया, अब वह मुझे किस करते करते नीचे जा रहा था. उस्मान ने मेरी जींस उतार दी और पेंटि खींचकर कर फेंक दी.

उस्मान मेरी फूल जैसी चूत को घूर रहा था, जो मैंने एक दिन पहले ही साफ की थी. उस्मान मेरी गुलाबी चूत को देखकर होठों पर जुबान घुमाने लगा. मैंने यह देख कर कहा उस्मान भाई चुसो ना मेरे चूत को.

उस्मान हां क्यों नहीं रुपाली जी.

ऐसा बोल कर वह मेरी चूत को चूसने लगा, मैंने तड़पते हुए उस्मान को कहा अब प्लीज मुझे अपनी बड़े लंड से चोदो ना.. मेरी चूत में आपका मुस्लिम लंड डालो और मेरी फूल जैसी चूत को चोद डालो..

उस्मान रुपाली जी मेरा पहले लंड चूसो और ऐसा कह के उस्मान और मैं 69 पोजीशन में हो गए, वह मेरी चूत को चाट रहा था और उसकी बड़ी बड़ी उंगलिया मेरी चूत में डाल रहा था.

एक्साइट होकर मैं उसके १० इंच लंबे लंड को मसल रही थी, उसका लंड का सुपाडा लाल लाल पर बहुत मोटा था. मैं उसके सुपाडे पर किस करने लगी और सुपाडे के मुंह को किस करने लगी. धीरे-धीरे मैं उस्मान का लंड चूसने लगी, उस का लंड बहुत गर्म और कड़क हो गया था.

थोड़ी देर बाद उस्मान मेरे ऊपर से हट गया और मेरे दोनों टांगे फैलाकर मेरी टांगों के बीच आ गया. हम दोनों एक दूसरे की आंखों में देख रहे थे. आज एक मुस्लिम तगड़ा मर्द का लंड एक सेक्सी लड़की के गुलाब के फूल जैसी चूत को चोदने वाला था.

उस्मान का लंड मेरी चूत के सामने तन कर खड़ा था, उस्मान मेरे ऊपर आकर मेरे बूब्स को पकड़ लिया और मुझे किस करने लगा, उस का लंड मेरी चूत के ऊपर घिस रहा था उस्मान की आंखों में देखते हुए मैंने तड़पते हुए कहा, अबी डालो ना उस्मान अपने लंड को मेरी चूत में वह चुप पर लंड रखकर दबाने लगा..

उस्मान के लंड का सुपाड़ा बहुत बड़ा था और उस्मान में जोर से झटका दिया, उसका सुपाड़ा मेरी चूत में चला गया और मेरी चीख निकल पड़ी. आह्ह उऔउ उऔउ उस्मान भाई संभाल के बहुत बडा लंड है आपका धीरे धीरे करो..

उस्मान रुपाली जी टेंशन मत लो दर्द कम हो जाएगा. वह मेरे लिप को किस करने लगा मैं भी किस में उस्मान का पूरा साथ दे रही थी, और उस ने फिर से एक झटका मारा उस्मान का लंड आधा अंदर चला गया, और मेरी चूत में बहुत दर्द हो रहा था. उस्मान के लंड की गरमी मेरी चूत महसूस कर रही थी.

उस्मान के लंड से मेरी चूत का मुंह खुल गया था. उस्मान मेरी चूत के अंदर लंड को दबाते हुए मुझे किस किए जा रहा था. मेरे गोरे-गोरे बूब्स के साथ खेल रहा था मेरे निप्पल को चूस रहा था, मुझे बहुत एक्साईट  फील हो रहा था, उस्मान मुझे झटके देने लगा और उसका लंड मेरी चूत की गहराई में जा रहा था..

१० मिनट के बाद उस्मान का पूरा १० इंच का लंड मेरी चूत में चला गया, उस का लंड का सुपाड़ा मेरी चूत के अंदर बच्चेदानी को चूम रहा था, उस्मान ने लंड को अंदर बाहर करना शुरू किया, उस्मान के लंड का सुपाड़ा मेरी चूत की दीवारों को घिसते हुए मेरी बच्चेदानी को चूम रहा था, यह बहुत मजा आ रहा था.

उसने दोनों हाथ मेरे बूब्स पर जमा लिए थे, मैंने उसके पीठ में अपने नाखून गढ़ा दिए थे और उस्मान को मेरे से चिपका लिया था, उस्मान मेरी आंखों में देख रहा था और झटके मार रहा था. उस्मान के हर जटके के साथ में पूरी हील रही थी. उस्मान मेरे होंठ को बीच बीच में किस कर रहा था. मेरे पूरे होंठ की लिपस्टिक उस्मान ने किस करके मेरे होंठ को चूस के खा लिथी. हम दोनों पसीने से भीग गए थे..

उस्मान मुझे २० मिनट से चोद रहा था. मैं दो बार जड चुकी थी. मेरे चूत से मेरा पानी चूदाई के साथ बाहर आ रहा था, उस्मान का लंड मेरी चूत के पसीने से गीला हो गया था, और तेजी से अंदर बाहर कर रहा था. उस्मान ने अब अपना स्पीड बहुत बढ़ा दिया था, मुझे पता था वह अब झड़ने वाला है, मैं उस्मान को बोली सारा वीर्य मेरे बच्चे दानी में छोडो मेरी चूत को तुम्हारे लंड का वीर्य पिला दो..

उस्मान ने आखिरी ५ मिनट में बहुत जोरदार झटके मारे और मेरे बच्चे दानी में लंड की पिचकारी छोड़ दी, मेरी चूत भी जड रही थी, उस्मान का सुपड़ा मेरे बच्चे दानी पर बहुत सारे वीर्य की पिचकारी मार रहा था.

एक मिनिट तक मेरी चूत में उस्मान के वीर्य की बरसात हो रही थी, एक मुस्लिम मर्द का बडा लंड ब्राम्हण चूत के अंदर अपना बहुत सारा वीर्य छोड़ रहा था..

मेने उस को अपनी दोनों टांगों से जकड़ लिया था ताकि उसका पूरा लंड मेरी चूत में जाए, उसके वीर्य की एक भी बूंद मेरी चूत से बाहर ना निकले. उस्मान मेरे ऊपर सो कर मुझे किस कर रहा था. उस्मान का लंड मेरी चूत में लगातार एक मिनट तक वीर्य छोड़ रहा था, दोनों एक-दूसरे के पसीने से भीग गये थे..

उस्मान ने मेरी आंखों में देखते हुए कहा रुपाली जी मुझे हमेशा से किसी खूबसूरत हिंदू लड़की को चोदना था और आपने वह मेरी ख्वाहिश पूरी कर दी, और मुझे किस करने लगा. मैंने किस करने के बाद उस्मान से कहा मुझे भी तगड़े मुस्लिम मर्द से चूत चूदवानी थी और मैंने उस्मान का मुह मेरे बोबे पर दबा लिया और उस्मान मेरे बोबे को चूसने लगा..

चुदाई के बाद उस्मान ने मुझे दो बार चोदा और मेरे बूब्स से बहुत सारा दूध पिया..

You might also like