Home / Tag Archives: नंगा बदन

Tag Archives: नंगा बदन

नागपुर में मस्त भाभी की जबरदस्त चुदाई

Nagpur me Mast Bhabhi ki Jabardast Chudaiहैलो दोस्तो, मैं अमित जयपुर से हूँ, मैं फिर से आपके लिए एक नई कहानी लेकर आया हूँ। अबकी बार में जो कहानी साझा करने जा रहा हूँ, वो नागपुर की एक भाभी की है और उसकी मर्ज़ी से लिख रहा हूँ। पहले की …

Read More »

गर्मियों की छुट्टियाँ और चुदाई का मजा

Garmiyon ki Chhuttiyan Chudai ka Maja दोस्तों मैं विशाल (बदला हुआ नाम) आपको एक सच्ची घटना बताने जा रहा हूँ। यह मेरी पहली कहानी है.. यदि कोई गलती हो तो माफ़ कर दीजिएगा।मैं विशाल केरला हूँ, मेरा कद 5 फुट 11 इंच है.. गेहुंआ रंग है.. मै थोड़ा सा मोटा …

Read More »

पहले चूचे दिखाए फ़िर चूत चुदाई

मेरा नाम अभिराज है.. और मैं एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूँ और अभी चंडीगढ़ में कार्यरत हूँ। मैं अन्तर्वासना को लगभग आठ साल से पढ़ रहा हूँ। मैंने अन्तर्वासना के लगभग सारी की सारी कहानी पढ़ी हैं, बहुत सी कहानियाँ सच्ची लगीं। आज मुझे भी दिल किया कि अपनी कहानी आप …

Read More »

एक असंतुष्ट भाभी की चुदाई

ओह्ह्ह दोस्तों हैडिंग ही पढ़कर आपको मजा आ गया होगा, मैं सभी दोस्तों को स्वागत करता हु अपनी कहानी से, नए यूजर का वेलकम और पुराने यूजर को प्यार भरा नमस्कार, ये मेरी दूसरी कहानी है सेक्सवासना डॉट कॉम पे, पिछली कहानी का बहुत ही अच्छा रिस्पांस मिला था, मेरी …

Read More »

बदला लेने आई मिलन चूत चुदाई का मज़ा लेकर गई

हाय दोस्तो, आपके मेल्स पढ़ कर बहुत ख़ुशी हुई और मेरी कहानी पसंद करने के लिए आपका धन्यवाद। जिन लोगों ने मेरी कहानी नहीं पढ़ी वो ऊपर दिये लिंक पर जाकर उसे पढ़ सकते हैं। वो मेरी पहली कहानी थी और जल्दबाज़ी में मैं काफी चीज़ें डिटेल्स में लिखना भूल …

Read More »

नौकरों के लौड़ों से मेरी चूत चुदाई

मेरा नाम विधि है। मैं एक 36 साल की महिला हूँ। मैं अपनी दोनों बेटियों और पति के साथ रोहतक में रहती हूँ। मेरी बड़ी बेटी स्नेहा 18 साल की है और छोटी बेटी उससे छोटी है.. उसका नाम स्तुति है। अब मैं आप लोगों को ज्यादा बोर ना करते …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें