Home / Tag Archives: bahan ki chut

Tag Archives: bahan ki chut

दील्ली के होटल में बहन की चुदाई

हेल्लो फ्रेंड्स, मैं फिर हाजिर हूँ अपनी कहानी लेकर. ये कहानी मेरी और मेरी बहन के बिच में हुए सेक्स के बारे में हैं. मेरी बहन को पेपर देने के लिए दिल्ली जाना था इसलिए मैं भी उसके साथ चला गया क्यूंकि मेरी माँ ने मुझे बहन के साथ जाने …

Read More »

चाँदनी को कली से फूल बनाया – Part 2

चाँदनी को कली से फूल बनाया – Part 1 से आगे की कहानी फिल्म में लड़की ने लड़के के झूलते हुए लौड़े को पहले निकाला फिर हाथ से खेल खेल के बड़ा किया तो वो बोली- आपका तो पहले से ही बड़ा है… फिर फ़िल्म की लड़की उसके लंड के …

Read More »

मेरा गरूर-चकनाचूर – Mera Gurur Chaknachur

लेखिका : अंजू वर्मा मेरा नाम अंजू है। मैं बीस साल की बी.ए फर्स्ट इयर की छात्रा हूँ। हम तीन सहेलियाँ है जो एक दूसरी की हर तरह से राजदार हैं। मोना, मोनिका दोनों सातवीं क्लास से मेरी दोस्त बनी। हम तीनों में से मैं शुरु से ही बहुत खूबसूरत …

Read More »

दिव्या मामी की मांग भरी -Divya mami ki mang bhari

हैल्लो दोस्तों आप सभी आंटी, दीदी, भाभी और लड़कियों के लिए में अभी यहाँ पर नया आया हूँ तो प्लीज आप सभी मेरा थोड़ा ख्याल रखना. अब में आप सभी को थोड़ा बहुत अपने बारे में बताता हूँ, दोस्तों में 33 साल का एक नौजवान लड़का हूँ और अभी तक …

Read More »

गाँव की सेक्सी बूब्स वाली भाभी

VILLAGE KI BHABHI KE BOOBS DABA KE CHODA ये स्टोरी मेरी और मेरी गाँव कि भाभी की है जिन कि ऐज ३० साल है और वो बहुत ही खूबसूरत है. भाभी के बड़े बूब्स हैं और मैं वो बूब्स देख के ही पगला जाता हूँ.उनका फिगर ३२- ३६-३४ है. मेरा …

Read More »

मेरा छोटा भाई मुझे चोदा ब्लैकमेल कर के -Mera chota bhai ne choda blackmail karke

हेलो दोस्तों आज मैं आपको एक ऐसी कहानी सुना रही हू, जिसको सुन कर आपका लण्ड खड़ा हो जाएगा, क्यों की ये कहानी बड़ी ही हॉट है, ये कहानी मेरे और मेरे छोटे भाई कवि के बारे मे है, आज मैं आपको बताउंगी की वो मुझे कैसे चोदा था वो …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें