Home / Tag Archives: bahan

Tag Archives: bahan

मेरे पति का छोटा लंड

दोस्तो, मेरा नाम शालिनी है। आज मैं अपनी सेक्स लाइफ के बारे में लिख रही हूँ। कहानी थोड़ी लंबी है इसलिए कई भागों में है, पर मेरा वादा है कि हर भाग आपको एक नये रोमांच का अनुभव करायेगा… मेरी शादी को दो साल हो चुके है, मेरे पति का …

Read More »

भाई ने चोदा कामसूत्र मूवी दिखाके खूब चुदी उस रात को

मेरा नाम गौरी है. मैं फाइनल एअर की स्टूडेंट हूँ. मेरा भाई भारतिया सेना मे है. वो काफ़ी सुंदर और बॉडी बिल्डर है. आज जो मैं बात आपसे शेयर कर रही हू वो 100 प्रतिशत सच्ची है, क्यों की मैं खुद अपनी बीती बात को आपसे शेर कर रही हू, …

Read More »

अपनी बहन को कुंवारी माँ बनाया एक सच्ची कहानी

मेरा नाम विवेक है, मैं आपसे एक कहानी शेयर कर रहा हु, हो सकता है आपको ये अजीब सा लगे पर ये बात सच है, मैं अपने बहन के बच्चे का पिता हु, और मेरी बहन कुंवारी माँ है, मैं पूरा वाकया आपके सामने पेश करूँगा, मैं भी नहीं चाहता …

Read More »

दुल्हन की चूत की आग

दोस्तों में पुणे में आकर बिल्कुल सही से सेट हो गया था और अभी मेरी उम्र 24 साल है। यह बात पिछले साल की है। में अपने प्रॉजेक्ट में पुणे में एक अकेला लड़का हूँ जो नैनीताल से हूँ मतलब कि पहाड़ी वाले इलाके से हूँ बाकी सब मराठी या …

Read More »

भैया गांड में धीरे से घुसाओ प्लीज दर्द होता है

मैं कितना बड़ा गांडू हु आपको मेरी कहानी पढ़कर ही पता चल जायेगा, पर मैं करूँ क्या, मुझे गांड मारना बहुत अच्छा लगता है, मैंने अपने जवान खूबसूरत बहन को किस तरह से राजी किया गांड मरने के लिए तब बी वो कह रही थी भैया गांड मत मारो प्लीज …

Read More »

चूस लो दीदी कोई नहीं देख रहा हैं

मेरी चुदक्कड़ दीदी कुसुम Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai Antarvasna हेलो दोस्तों में रणवीर आज फिर आया हूँ अपनी दीदी कुसुम के साथ के मेरे सेक्स एंकाउन्टर की एक सेक्सी चूस कहानी. चूस कहानी इसलिए क्यूंकि इस कहानी में केवल लंड चूस की बात हैं …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें