Home / Tag Archives: bhabhi ki choot

Tag Archives: bhabhi ki choot

भाभी के बड़े बड़े मम्मे

मेरा नाम रमन है, जयपुर में रहता हूँ, उम्र 22 साल है! यह मेरी पहली कहानी है लेकिन है सच्ची ! यह घटना एक साल पहले मेरे साथ हुई थी। मैं इसमे कुछ गंदी भाषा का प्रयोग भी कर रहा हूं लेकिन सिर्फ़ रोचक बनाने के लिये। यह सिर्फ़ मुझे …

Read More »

गावं की पुलिस वाली भाभी को चोदा

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और में पंजाब से हूँ, मेरी उम्र 28 साल है और हाईट 5 फुट 6 इंच और सरकारी जॉब करता हूँ। मेरी इस साईट पर ये पहली कहानी है तो अगर कोई गलती हो जाए तो मुझे माफ़ कर देना। अब में आपका समय …

Read More »

Bachpan Ka Chudai Gyan Aunty Ne Sikhaya

Hi friends, here I m Rahul again. I am working in a MNC on a very good position but jaisa ki hum sab ki life mein kuch incidences hote hain jo ki real hote hain but use hum sab ke saath share nahin kar pate hain….kahin na kahin koi sharam …

Read More »

अंकल ने मुझे अपने दोस्त से चुदवाया (Uncle ne mujhe apne dost se chudwaya)

प्रेषक : प्रियंका … हैल्लो दोस्तों, कैसे हो आप? में उम्मीद करती हूँ कि आप सभी बिल्कुल ठीक हो। दोस्तों मेरा नाम प्रियंका है और मेरी उम्र 23 साल है और में दिखने में एकदम सेक्सी लगती हूँ। हर कोई मुझे देखकर मेरे जिस्म का दीवाना हो जाता है, क्योंकि …

Read More »

पहली बार चुदने की उत्सुकता

मैं रोहित एक बार फिर हाज़िर हूँ एक नई कहानी के साथ… Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai पिछली कहानियों की तरह यह भी मेरा एक सच्चा अनुभव है… दरअसल जब मैंने अपनी पिछली कहानियाँ नाईटडिअर पर भेजी तो मेरे पास काफी मेल्स आए। इन्हीं में …

Read More »

लचीले बदन वाली बरखा (lacheele badan wali barkha)

नैना आंटी के सिखाए गुर उनकी अपनी बेटी टीना पर आज़माने के बाद उसी परिवार की एक और चुदासी Kamasutra Chudai Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex चूत को मेरे लंड की प्यास लगी और ये थी नैना आंटी की ननंद की बेटी बरखा, मुझे भी पता नहीं उसके साथ …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें