Home / Tag Archives: bhabhi ki gand

Tag Archives: bhabhi ki gand

मेरी प्यारी बीवी राण्ड निकली

हाय फ़्रेन्ड्स, मेरा नाम मनीष है। यह मेरी पहली कहानी है तथा पूरी तरह सच्ची है। मेरे साथ ऐसा वाकिया हुआ जिसे मैं आप लोगों को बताना चाहता हूँ। मेरी शादी 8 साल पहले सीमा से हुई थी। सीमा बहुत ही खूबसूरत लड़की है। उसका 34-28-36 का मदमस्त बदन.. किसी …

Read More »

मेरा दिवाना देवर चोदे मुझे नये तरीके से

प्रेषक : प्रीति हेल्लो,  मेरा नाम प्रीति है. मैं शादीशूदा हूँ. शादी के एक साल बाद की एक घटना मैं आज आपको बताती हूँ. मैं अपने पति के साथ रहती थी. घर मे हम दो ही रहते थे. वैसे मैं बहुत सेक्सी हूँ लेकिन अपने पति से खुश थी. वो भी …

Read More »

हनी भाभी की चुदाई की और गांड मारा

दोस्तों में नीरज आपको एक बहुत ही मजेदार सेक्स कहानी सूना रहा हु, आशा करता हु, की आपको मेरी ये कहानी बहुत हॉट लगेगी, ये कहानी सच्ची कहानी है, मैंने एक जवान और टाइट औरत की चुदाई कल ही की है उन्ही के बारे में ये कहानी है, मेरी उम्र …

Read More »

भाभी की मस्त गांड (Bhabhi ki mast gand)

एल्लो दोस्तों मेरा नाम जय है और में गुजुरात का रहने वाला हू.  यह सेक्स स्टोरी मेरी और एक भाभी कि है. मेरी उम्र २५ साल है और में एक ऍम अन सी में जॉब करता हु. . मेरे लंड का साइज़ ६.५ इंच है. और वो २ इंच मोटा …

Read More »

भाभी के बड़े बड़े बूब्स चुसे और गांड में तेल लगा के ठुकाई की

Kamasutra Chudai Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex मैं हिंदी सेक्स कहानी का रेगुलर रीडर हूँ इसलिए मैं भी अपनी सेक्स स्टोरीज आपके साथ शेयर करना चाहता हूँ. मेरा नाम आरव है. मैं दौसा का रहने वाला हूँ लेकिन अभी जयपुर में स्टडी करता हूँ. और जयपुर में ही रहता …

Read More »

अपनी कस्टमर भाभी की चिकनी चूत में लंड डाला

हेल्लो फ्रेंड्स! मेरा नाम आकाश है. और में इंदौर का Kamasutra Chudai Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex रहने वाला हु और में ब्रा, पेंटी, एडल्ट खिलोने और वीमेन थिंग्स बेचता हु ऑनलाइन. यह स्टोरी मेरी और मेरे एक कस्टमर कि है. तो मेरा नाम तो मैंने बताया है आकाश. …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें