Home / Tag Archives: chut

Tag Archives: chut

दीदी की जेठानी की चुदाई-Didi ki jethani ki chudai

Indian Sex Stories दीदी की जेठानी की चुदाई अपनी एक सच्ची घटना पेश करने जा रहा हु. जोकि मेरी दीदी की जेठानी, जो कि एक विडो है उसके साथ हुई. तो दोस्तों, बात उस वक्त की है, जब मैं १२थ में था. मेरी दादी की डेथ हो गयी थी, तो …

Read More »

ट्रेन में मिली चूत सहलाने को (Train me mili chut sahlane ko)

हेलो फ्रेंड्स, कैसे है आप लोग. मेरा नाम नवीन है और आज मैं आके सामने अपना एक सेक्स अनुभव रख रहा हु. यहाँ पर मैंने बहुत सी कहानिया पढ़ी है. वो सब सच्ची है या नहीं, ये तो मैं नहीं जानता. लेकिन, आप को विश्वास दिलाता हु. कि ये मेरा …

Read More »

कुंवारा लन्ड कुंवारी चूत

मैं हरियाणे का रहने वाला हूँ और मेरी उम्र 25 साल है। Hindi Sex Stories Antarvasna Kamukta Sex Kahani Indian Sex Chudai मैं xVasna.com का नियमित पाठक हूँ। मैं जो कहानी लिख रहा हूँ वो बिल्कुल सच्ची है, इसमें थोड़ा सा भी झूठ नहीं है। आज तक मैंने यह बात कभी …

Read More »

घर की छत पर झांटे साफ करवाई और चूत मरवाई

प्रेषक : निशा … हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम निशा है। यह मेरी sexolic.com पर पहली कहानी है। में दिल्ली से हूँ और दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन कर रही हूँ। मेरी उम्र 21 साल है.. मेरी बॉडी का शेप बहुत अच्छा है.. जिससे कॉलेज के सारे लड़के मुझ पर लाईन मारते है.. …

Read More »

जन्मदिन का तोहफ़ा- हब्शी का लौड़ा (Janmdin Ka Tohfa Habshi Ka Lauda)

हैलो दोस्तो, आज आपके लिए पेश है, दिल्ली के राज गर्ग की एक और कहानी, जिसमें उन्होने अपनी पत्नी की इच्छा पूर्ति के लिए उसको जन्मदिन पर तोहफे के रूप में हब्शी यानि के नीग्रो का लंड तोहफे में दिया। तो कहानी पढ़िये और सोचिए अगर कल आपकी पत्नी आपसे …

Read More »

बीवी ने सहेली को चुदवाया

रीता मेरी पड़ोसन थी। मेरी पत्नी नेहा से उसकी अच्छी दोस्ती थी। शाम को अक्सर वो दोनों खूब बतियाती थी। दोनों एक दूसरे के पतियों के बारे में कह सुनकर खिलखिला कर हंसती थी। मुझे भी रीता बहुत अच्छी लगती थी। मैं अक्सर अपनी खिड़की से उसे झांक कर देखा …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें