Home / Tag Archives: didi ki chudai

Tag Archives: didi ki chudai

भाभी के बाद उसकी बहन के साथ चुदाई का मज़ा

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राकेश है और में दूसरी बार आपके सामने अपनी कहानी लेकर आया हूँ। दोस्तों में भाभी की खूब चुदाई करता था और वो भी मुझसे चुदना काफ़ी पसंद करती थी। उस दौरान गर्मी की छुट्टियों में भाभी की छोटी बहन रीना भाभी के घर रहने आई। …

Read More »

प्रेग्नेंट दीदी को चोदा: कार में बिठाकर गरम किआ

प्रेषक : गुमनाम हेल्लो दोस्तों… आप लोग केसे हे. यह मेरी पहली कहानी है और सच्ची भी है मानो या ना मानो पर सच्ची है. सभी चूत और लंड को मेरा सलाम. में शहर से दूर फॉर्म हाउस मे रहता हूँ. मेरे परिवार मे 6 लोग है.में सबसे छोटा हूँ. …

Read More »

दीदी ने चुदाई की मस्तियाँ सिखाई

हेल्लो दोस्तों ये मेरी पहली कहानी है. उम्मीद करता हूँ की आप सभी को पसंद आये मेरी सेक्सी दीदी की कहानी. घर मे मम्मी पापा और दीदी थी. दीदी 18 साल की थी. घर मे सबसे छोटा होने के कारण सब मुझे बहुत ही प्यार करते थे. दीदी मुझे बहुत …

Read More »

दीदी की सील मेरे सामने टूटी

हैल्लो फ्रेंड्स.. मेरा नाम विक्की है और मेरे घर में 4 लोग रहते है.. में मेरे पापा मेरी मम्मी और मेरी दीदी. मेरी दीदी का नाम प्रिया है और वो दिखने में बहुत सुंदर है. मेरी दीदी का फिगर बहुत अच्छा है में और मेरी दीदी हमेशा से ही साथ …

Read More »

मुंबई में मेरी दीदी ने चूत दी (Mumbai me meri didi ne chut di)

यह एक सच्ची सेक्स स्टोरी है, कभी- कभी कोई अनवांटेड गिफ्ट मिल जाये तो कितनी ख़ुशी होती है न…. होती है न…., ऐसे ही अनवांटेड गिफ्ट की तरह मिली मुझे मेरी बहिन की चूत, हमें भी ख़ुशी हुई. आइये पूरा किस्सा बताते है कि क्या हुआ, कैसे मिली मुझे मेरी …

Read More »

दीदी की शादी में मेरी चुदाई – मैं अपने चूतड़ उठा उठा के उसका साथ देने लगी

हाई फ्रेंड्स मेरा नाम नेहा हैं और यह मेरी जिन्दगी की एक सच्ची कहानी हैं. अगर आप को यह कहानी पसंद आये तो मुझे कमेन्ट जरुर भेजना. ये स्टोरी मेरी सिस्टर की मेरेज की हैं. हम लोग पटना बिहार के हैं. मेरी एज 21 हैं और मेरी सिस्टर की 24. …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें