Home / Uncategorized

Uncategorized

Dost ki maa ki gand mari

hi friends i’m a regular reader of sex stories…chalo main ab apse hindi mein baat krta hu . yeh mere sath biti hui ek sachi ghatna hai jo ki mere or mere dost ki maa ke bich hui. mera naam arjun hai main 19 saal ka ek smart looking gud …

Read More »

चलती बस में अंजान लड़की के साथ धमाकेदार सेक्स

प्रेषक : अतुल … हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम अतुल मेहरा है और मेरी उम्र 20 है और में यमुनानगर का रहने वाला हूँ। दोस्तों में sexolic.com का पिछले दो सालों से रेगुलर रीडर हूँ और मुझे इसकी सभी कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है और आज यह मेरी इस साईट पर …

Read More »

Didi Ki Gaand Maari Jabardast Tareeke Se

Hi friends, mera naam Abhishek hai(name changed) main punjab me in rehta hu and Punjabi family ko hi belong krta hu, mere ghar me in main air mere papa rehte haim, mom ki death ho chuki hai, an main apni story pe aata hi, ye ek sachi story has bilkul …

Read More »

बीवी ने सहेली को चुदवाया

रीता मेरी पड़ोसन थी। मेरी पत्नी नेहा से उसकी अच्छी दोस्ती थी। शाम को अक्सर वो दोनों खूब बतियाती थी। दोनों एक दूसरे के पतियों के बारे में कह सुनकर खिलखिला कर हंसती थी। मुझे भी रीता बहुत अच्छी लगती थी। मैं अक्सर अपनी खिड़की से उसे झांक कर देखा …

Read More »

Mausi ke saath manayi suhagraat

Hello ! xVasna.com reader i am back. Kaise hai aaplog. Maine kal hi ek naya sex experience kiya hai, maine aaj tak xVasna.com me bahut sari kahaniya padhi jisme kisine apni maa se shadi ki to kisi ne kisi aur se, tab maine v isi trick ka istemal kiya. mai ek …

Read More »

Bachpan Ka Chudai Gyan Aunty Ne Sikhaya

Hi friends, here I m Rahul again. I am working in a MNC on a very good position but jaisa ki hum sab ki life mein kuch incidences hote hain jo ki real hote hain but use hum sab ke saath share nahin kar pate hain….kahin na kahin koi sharam …

Read More »
वैधानिक चेतावनी : यह साइट पूर्ण रूप से व्यस्कों के लिये है। यदि आपकी आयु 18 वर्ष या उससे कम है तो कृपया इस साइट को बंद करके बाहर निकल जायें। इस साइट पर प्रकाशित सभी कहानियाँ व तस्वीरे पाठकों के द्वारा भेजी गई हैं। कहानियों में पाठकों के व्यक्तिगत् विचार हो सकते हैं, इन कहानियों व तस्वीरों का सम्पादक अथवा प्रबंधन वर्ग से कोई भी सम्बन्ध नहीं है। आप अगर कुछ अनुभव रखते हों तो मेल के द्वार उसे भेजें